भाई-बहन के बीच शारीरिक संबंध को दिखाएगी बॉलीवुड की ये फिल्म ||

0

Intimate love story of Brother and sister | भाई-बहन के बीच शारीरिक संबंध | Bollywood Incest Movie – I am Roshni

 

दरअसल, दो दिन पहले बॉलीवुड की एक नयी फिल्म का ट्रेलर लांच हुआ है. ये फिल्म है ”आई एम रौशनी”. ये बॉलीवुड की पहली ऐसी फिल्म है जो भाई-बहन के बीच सेक्सुअल रिलेशन को दिखा रही है. अरे-अरे आराम से, ये जानकार ज्यादा तिलमिलाई नहीं, पूरी बात जान लीजिये और समय हो तो ट्रेलर भी देख लीजिये. एक लड़की को बंधनों से बाँध दिया जाता है, अब जहाँ बंधन होगी वहां टकराव तो होगा ही और जब ये बंधन टूटेगी तो क़यामत भी बरसेगी. ये सब लोग एक मासूम लड़की को अपने भाई के साथ हमबिस्तर होने को मजबूर कर देते हैं, इस फिल्म की कहानी कुछ यही है.

सिनेमा या फिल्म्स, आज मनोरंजन का सबसे मशहूर और महत्वपूर्ण साधन है. मनोरंजन आज के दौर में बहुत ही आवश्यक है. इसके कई विकल्प हैं पर सिनेमा का स्थान सबसे ऊपर है और पिछले 104 सालों से भारतीय सिनेमा लोगों का मनोरंजन कर रही है. भारतीय सिनेमा जिसे बॉलीवुड इंडस्ट्री भी कहते हैं, हर बार, हर दौर में नए-नए कहानियों से लोगों का मनोरंजन करती है. अब तो बॉलीवुड में कई नए और लाज़वाब एक्सपेरिमेंट्स भी होने लगे हैं, जो कभी पास तो कभी-कभी फ़ैल भी हो जाते हैं.

Intimate love story of Brother and sister | भाई-बहन के बीच शारीरिक संबंध | Bollywood Insect Movie | I am Roshni

भारतीय सिनेमा, अस्तित्व में 1913 में आया जब इंडियन सिनेमा के जनक कहे जानेवाले ”दादासाहेब फाल्के” ने अपनी पहली फिल्म ”रजा हरिश्चंद्र” का निर्माण किया था. यह इंडियन सिनेमा की पहली फिल्म थी और मूक फिल्म थी. इस फिल्म के बाद से ही असल इंडियन सिनेमा का जन्म हुआ. धुंडीराज गोविन्द फाल्के अर्थात् दादासाहेब फाल्के ने इंडिया सिनेमा की नींव राखी और ये इतनी मजबूत साबित हुई की आज भी इंडियन सिनेमा सालोंसाल फल-फूल रही है. इसके बाद कई लोगों ने फिल्म निर्माण में कार्य करना प्रारंभ कर दिया.

हांलाकि भारत में पहली बार 17 वीं सदी में लूमियर ब्रदर्स ने बॉम्बे (अब मुंबई) में लोगो को स्टील इमेजेज जोड़कर बनी हुई अपनी पहली फिल्म दिखाई थी. भारत के लोग मनोरंजन के बड़े दीवाने होते हैं और इन्हें ऐसी चीजें बड़ी आकर्षक और मजेदार लगती है, तभी तो बॉलीवुड आज इस मुकाम पर है और स्टेबल इंडस्ट्री है.

भारतीये सिनेमा को मोटे तौर से छः भागों में बांटा जाता है. अभी का जो सिनेमा है वो कमर्शियल है. 80 के दशक के बाद से भारतीय सिनेमा में एक नया दौर देखने को मिला. यह दौर से प्रेम और मोहब्बत का दौर, इस दशक में खूब लव स्टोरीज का निर्माण हुआ और यहीं से डायरेक्टर ‘यश चोपरा’ को ‘किंग ऑफ़ रोमांस’ का खिताब मिल गया. बॉलीवुड के शहंशाह ‘अमिताभ बच्चन’ और बादशाह ‘शाहरुख़ खान’ को उनकी पहचान दिलाने में यश चोपरा के फिल्मों की अहम भूमिका रही है.

जैसे-जैसे समय बीतता गया, बॉलीवुड में कई बदलाव आते गए. नए-नए एक्सपेरिमेंट्स होने लगे, अब बॉलीवुड कोई एक लीक पर फिल्म बनाने के बजाए अलग-अलग और किसी मुद्दे को लेकर फिल्म्स बनाने लगा. ऐसे कई उदाहरण है जो इन बातों को प्रमाणिक बनाते है. जिस मुद्दे को समाज सोचना भी नहीं चाहता, जिस पर खुलकर बात नहीं की जा सकती, उन मुद्दों को बॉलीवुड ने बड़े ही उचित तरीके उठाया. इन मुद्दों में महिलाओं और बच्चों से जुड़े कई मुद्दे थे.

आमिर खान द्वारा निर्मित फिल्म ”तारे ज़मीन पर” एक बीमारी ‘डिस्लेक्सिया’ पर बनायीं गयी थी तो वहीं ”पा” मूवी एक अलग बीमारी ‘प्रोजेरिया’ पर बेस्ड थी. ऐसे ही कई फिल्म हैं जिसमें जिस्म और सेक्स के बातें की गयी हैं. ”लिपस्टिक अंडर माय बुरखा” ये फिल्म अपने आप में काफी अलग सब्जेक्ट को बयाँ करती है. ये साड़ी कहानियाँ इस बात से अवगत कराती है कि समय बदल रहा है और हमें जो चीजें समाज और हमारे आसपास चल रहीं हैं, उनके बारे में बात करने में कोई परहेज़ नहीं होनी चाहिए. ये फुहरता या गन्दगी के विषय नहीं है, ये वास्तविकता है और सिनेमा तो समाज का दर्पण है.

आज जब समाज में ये सब कुछ चल रहा है तो बहुत आवश्यक हो जाता है कि बॉलीवुड ऐसी विषयों को उठाये, उनपर चर्चा करे. अब बात करेंगे तभी तो बात बनेगी. आपने कभी सोचा है कि व्यभिचार पर भी कहानी को गढ़ा जा सकता है, इस विषय पर भी एक बात की जा सकती है. हाँ, हम यहाँ इसी विषय पर बात कर रहे हैं.

दरअसल, दो दिन पहले बॉलीवुड की एक नयी फिल्म का ट्रेलर लांच हुआ है. ये फिल्म है ”आई एम रौशनी”. ये बॉलीवुड की पहली ऐसी फिल्म है जो भाई-बहन के बीच सेक्सुअल रिलेशन को दिखा रही है. अरे-अरे आराम से, ये जानकार ज्यादा तिलमिलाई नहीं, पूरी बात जान लीजिये और समय हो तो ट्रेलर भी देख लीजिये. इस फिल्म में एक विकृत अंकल, एक असंवेदनशील माँ, एक अजीब प्रेमी और एक हिंसक पिता हैं जो एक इनोसेंट लड़की की ज़िन्दगी को ज़ंजीरो से बाँध देते है. अब जहाँ बंधन होगी वहां टकराव तो होगा ही और जब ये बंधन टूटेगी तो क़यामत भी बरसेगी. ये सब लोग एक मासूम लड़की को अपने भाई के साथ हमबिस्तर होने को मजबूर कर देते हैं, इस फिल्म की कहानी कुछ यही है.

Intimate love story of Brother and sister | भाई-बहन के बीच शारीरिक संबंध | Bollywood Insect Movie | I am Roshni                Intimate love story of Brother and sister | भाई-बहन के बीच शारीरिक संबंध | Bollywood Insect Movie | I am Roshni

भाई-बहन के बीच शारीरिक संबंध | Bollywood Incest Movie – I am Roshni

ये अपनेआप में बॉलीवुड की अलग तरह की फिल्म है जो एक स्ट्रोंग मेसेज देती है कि हमारे आसपास कितना दुराचार फैला हुआ है, कितनी गंदगी है. हम कभी ऐसे रिलेशन के बारे में नहीं सोच सकते है क्योंकि हमारी सो-कॉल्ड सभ्यता और संस्कृति इसकी इज़ाज़त नहीं देते हैं पर इसका अर्थ ये नहीं कि ऐसा कुछ हो ही नहीं सकता है. आज बहुत जरुरी है कि माँ-बाप बच्चों से खुलकर का बात करें, एक हेल्दी रिलेशन रखें और सही-गलत के फर्क को बाताएं. परवरिश की नींव को मजबूत रखना बहुत आवश्यक है अन्यथा मर्यादें टूटेंगी ही और कभी-कभी मर्यादाओं का तोटना आवश्यक भी है वरना नयी चीज़ सामने कैसे आएगी.

हम इस विषय को सही या गलत का सर्टिफिकेट नहीं दे रहे हैं. बस आपको सोचने को कह रहे हैं कि यदि ऐसा कुछ हो तो कितनी अजीब-सी बात है, किसीको इतना मजबूर कर देना कि फिर सही-गलत सब बेमानी हो जाती है. बॉलीवुड में कई एक्सपेरिमेंट्स तो हो चुके हैं, कई के परिणाम सार्थक रहे हैं. अब ये एक्सपेरिमेंट कितना सफल होता है ये तो वक़्त ही बताएगा पर हाँ ऐसी कहानी पहली बार कही जायेगी. उम्मीद करते हैं कि एक बार ही सही पर इस कहानी को भी सुना जाना चाहिए, बाकी सबकुछ तो जनता-जनार्धन पर निर्भर करता है. अब भईया, ”पब्लिक है, ये सब जानती है, ये पब्लिक है”. तब तक ये ट्रेलर देखते जाईये : 

Leave A Reply

Your email address will not be published.