एशिया कप : कल बांग्लादेश से बदला लेने उतरेगी टीम इंडिया, धौनी के खेलने पर संदेह

matchमीरपुर : भारत अगले महीने होने वाले विश्व ट्वेंटी20 के लिए अपनी तैयारियों के अंतिम चरण में पहुंच गया है और कल से शुरू होने वाले एशिया कप में बांग्लादेश के खिलाफ शुरुआती मुकाबले में कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की उपलब्धता पर अनिश्चितता के बादल छाये हुए हैं जिससे टीम की लय बिगड़ सकती है. टीम के ट्रेनिंग सत्र के दौरान कल धौनी की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया था, जिससे बीसीसीआई को उनके बैक अप के रूप में पार्थिव पटेल को बुलाना पड़ा.

मेजबान टीम के खिलाफ कल के मैच के लिए कप्तान की फिटनेस चिंता का विषय है जिसने एक से ज्यादा मौकों पर बड़ी टीमों के खिलाफ उलटफेर करने की ख्याति हासिल कर ली है. यह महाद्वीपीय चैंपियनशिप विश्व टी20 को ध्यान में रखते हुए वनडे के बजाय ट्वेंटी20 प्रारुप में खेली जायेगी जिससे एशियाई टीमों को इस टूर्नामेंट से पहले जरुरी ‘मैच टाइम’ मिल जायेगा. खिताब के दावेदारों में शुमार भारत के लिए एशिया कप में अच्छा प्रदर्शन विश्व टी20 में जाने से पहले मनोबल बढ़ाने वाला रहेगा.

धौनी ने हमेशा ही कहा है ‘खेल में बदला बहुत कड़ा शब्द है’, लेकिन भारतीय टीम मजबूत बांग्लादेश को पराजित करने के लिए बेताब होगी, जिसने उन्हें पिछले साल इसी जगह तीन मैचों की वनडे सीरीज में शिकस्त दी थी. पिछले साल वनडे श्रृंखला में तेज गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान ने अपने वैरिएशन से भारतीय बल्लेबाजों को हैरान कर दिया था और पिछली बार उसके खिलाफ मिली असफलता के बाद यह टूर्नामेंट भारतीय टीम को ‘मुस्ताफिजुर कोड’ तोड़ने का मौका देगा.

भारतीयों ने अपनी टी-20 की तैयारियां बेहतरीन तरीके से शुरु की है, उन्होंने आस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी सरजमीं और घरेलू मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ लगातार श्रृंखला जीती हैं. भारत ने इस साल छह टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें से उसने पांच में जीत दर्ज की है. उसे केवल पिछली श्रृंखला में पुणे की असमान्य पिच पर श्रीलंका के खिलाफ हार मिली थी. अगर भारत एशिया कप में फाइनल्स में पहुंच जाता है तो ये और पांच टी20 मैच हो जायेंगे जिससे विश्व टी20 के शुरु होने से पहले उनके 11 मैच हो जायेंगे तथा टीम निदेशक रवि शास्त्री के अनुसार यह टीम की सही तैयारी का हिस्सा होगा.

धौनी के नेतृत्व में टीम छोटे प्रारुप में एकजुट दिखती है लेकिन असली परीक्षा एशिया कप से शुरु होगी क्योंकि इसके साथ ही उनकी तैयारियां भी खत्म हो जायेंगी. खिलाडियों के लिए लय अहम होगी और धौनी के खिलाड़ी शुरु में मिले लाभ को हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध होंगे, हालांकि बांग्लादेशी टीम के खिलाफ यह आसान नहीं होगा क्योंकि वह घरेलू सरजमीं पर काफी मजबूत साबित होगी. भारतीय कप्तान ने संकेत दिया था कि वह टीम के सभी 15 खिलाड़ियों को ‘गेम टाइम’ देना चाहेंगे, हालांकि उम्मीद है कल बांग्लादेश के खिलाफ ‘विजयी संयोजन’ ही खेलेगा. बल्लेबाजी क्रम भी सटीक दिखता है, जिसमें शिखर धवन और रोहित शर्मा की जोडी शीर्ष क्रम में होगी.

विराट कोहली आस्ट्रेलिया दौरे के बाद तीन हफ्ते के आराम के बाद अपने तीसरे नंबर पर ही वापसी करेंगे. भारत के छोटे प्रारुप के मुख्य विशेषज्ञ सुरेश रैना चौथे नंबर पर और धीरे- धीरे अपनी लय में वापसी कर रहे युवराज सिंह उनके बाद शामिल होंगे. टी20 प्रारुप में जहां तक बल्लेबाजी की बात है तो रविंद्र जडेजा और ‘बिग हिटर’ हार्दिक पंड्या भारत के शीर्ष आठ मजबूत खिलाड़ी पूरे होते हैं. रविचंद्रन अश्विन, आशीष नेहरा और जसप्रीत बुमरा से लाइन अप पूरा होता है. बुमरा ने कल ट्रेनिंग नहीं की थी और टीम सूत्रों ने कहा कि उन पर मौसम का असर है और आराम कर रहा है.

भारतीय गेंदबाजों से निश्चित रूप से उपमहाद्वीप की सुस्त पिचों पर एकजुट होने की उम्मीद की जायेगी, जिसमें अश्विन इस आक्रमण के अगुवा होंगे. आस्ट्रेलिया में ऊंचे स्कोर वाली वनडे श्रृंखला में सामान्य प्रदर्शन के बाद अश्विन ने टी20 श्रृंखला में फार्म में वापसी करते हुए अंतिम छह टी20 मैचों में 13 विकेट प्राप्त किये. श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में उन्होंने तीन मैचों में नौ विकेट चटकाये और विशाखापत्तनम में निर्णायक मुकाबले में आठ रन देकर चार विकेट से अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी किया. नेहरा और बुमरा से तेज गेंदबाजी आक्रमण काफी अच्छा है, जिसमें से पहला काफी अनुभवी है और मैच के हालात पढ़ने की काबिलियत रखता है जबकि दूसरे का असमान्य एक्शन बल्लेबाजों को परेशान कर देता है.

बांग्लादेश की मजबूत उनकी गेंदबाजी है जिसमें मुस्ताफिजुर, तास्किन अहमद और अल अमीन हुसैन द्वारा भारतीय बल्लेबाजों के खिलाफ काफी चुनौती पेश करने की उम्मीद है. टीमें इस प्रकार हैं:

भारत : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान और विकेटकीपर), रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, सुरेश रैना, युवराज सिंह, रविंद्र जडेजा, हार्दिक पंड्या, आशीष नेहरा, आर अश्विन, जसप्रीत बुमरा, अंजिक्य रहाणे, हरभजन सिंह, भुवनेश्वर कुमार, पवन नेगी और पार्थिव पटेल. बांग्लादेश : मशरफी मुर्तजा (कप्तान), इमरुल कायेस, नुरुल हसन, सौम्य सरकार, नासिर हुसैन, शब्बीर रहमान, महमूदुल्लाह रियाध, मुश्फिकर रहीम :विकेटकीपर:, शकिबुल हसन, अल अमीन हुसैन, तास्किन अहमद, मुस्ताफिजुर रहमान, अबु हीदर, मोहम्मद मिथुन, अराफात सन्नी.

Comments are closed.