एमबीबीएस डॉक्टरों को पता ही नहीं कैंसर होता क्या है?

mbbs_docभोपाल (नप्र)। ‘एक तरफ कैंसर की बीमारी लगातार बढ़ती जा रही है, वहीं एमबीबीएस कोर्स में कैंसर के बारे में बहुत थोड़ी जानकारी दी जाती है। एमबीबीएस डॉक्टरों को पता ही नहीं होता कि कैंसर क्या है? उन्हें कैंसर के लक्षण और मरीजों के पैन मैनेजमेंट का भी पता नहीं होता। डॉक्टर कोई भी हो, उसे कैंसर के मरीजों का सामना करना पड़ता है। इसलिए उनका प्रशिक्षित होना जरूरी है। जब तक एमबीबीएस डॉक्टर कैंसर के बारे में नहीं जानेंगे तब तक वह मरीजों में कैंसर का अर्ली डिटेक्शन (शीघ्र निदान) नहीं कर पाएंगे।’

यह जानकारी नीदरलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ ग्रोनिंगन के मेडिकल सेंटर के सर्जिकल ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. जेकब डी विरीस ने दी। वे राजधानी के ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (एम्स) में यूनिवर्सिटी ऑफ ग्रोनिंगन की ओर से आयोजित पांच दिवसीय विंटर स्कूल में हिस्सा लेने आए हैं। डॉ. विरीस 26 फरवरी तक एम्स में एमबीबीएस विद्यार्थियों को कैंसर के बारे में जानकारी देंगे। सोमवार को विंटर स्कूल ऑफ ऑन्कोलॉजी का उद्घाटन हुआ।

डॉ. विरीस ने बताया कि कैंसर के बारे में एमबीबीएस स्टूडेंट को काम्परीहेंसिव नॉलेज देना जरूरी है। उन्होंने बताया कि अभी मेडिकल स्टूडेंट कैंसर को मुश्किल विषय समझते हैं। उन्हें अच्छी तरह पढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि ग्रोनिंगन यूनिवर्सिटी दो सप्ताह का कोर्स आयोजित करती है, जिसमें एमबीबीएस विद्यार्थियों को कैंसर के लक्षण,निदान व उपचार की गहराई से जानकारी दी जाती है। इस मौके पर एम्स की पैथॉलाजी विभाग की प्रमुख डॉ. नीलकमल कपूर व फिजियोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ. एसएस मिश्रा भी मौजूद थे।

कैंसर की स्क्रीनिंग जरूरी

डॉ. विरीस ने कहा कि भारत में कैंसर की इंटेंसिव स्क्रीनिंग की जाना चाहिए। महिलाओं में स्तन कैंसर रोकने के लिए उनकी मेमोग्राफी जांच होना चाहिए। उन्होंने बताया कि कैंसर उपचार के लिए देश में जो बेहतर इलाज उपलब्ध हो, वहीं करवाना चाहिए। अमेरिका या यूरोप के ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल अपनाने की जरूरत नहीं है।

तंबाकू व मसालेदार खाना जिम्मेदार

डॉ. विरीस ने बताया कि भारत में तंबाकू और मसालेदार भोजन के सेवन के कारण कैंसर ज्यादा होता है। तंबाकू खाने से ओरल कैंसर होता है, वहीं मसालेदार खाने से आंतों व आहार नली का कैंसर होता है। कैंसर को लेकर जागरुकता फैलाने की जरूरत है। अभी भी कई लोगों को यह पता नहीं होता कैंसर के लक्षण क्या होते हैं और उन्हें कब डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

कैंसर के बचने इन

बातों का रखें ख्याल

– तंबाकू के सेवन से बचें

– मसालेदार भोजन से परहेज रखें

– बैलेंस डाइट लें, रेशेदार खाद्य पदार्थों का सेवन करें

– लड़कियां माहवारी से संबंधित समस्याओं के लिए स्वयं कोई दवा न लें, डॉक्टर से परामर्श के बाद ही उपचार लें

– शरीर का वजन नियंत्रित रखें

– व्यायाम करें और एक्टिव रहें

Comments are closed.