सुषमा स्वराज की ‘संजीवनी’ जाल में फंसी

0

रायसेन/सांची। मंगलवार को जिला परिवहन अधिकारी ने सांची जनपद पंचायत के तहत संचालित एक संजीवनी वाहन को बिना नंबर प्लेट के चलते हुए मिलने पर पंचनामा बनाकर जब्त करने की कार्रवाई की है। लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं सांसद सुषमा स्वराज द्वारा यह वाहन सांसद निधि से सांची विधान सभा क्षेत्र में दिया गया था। सुषमा स्वराज ने अपने संसदीय क्षेत्र में आधा दर्जन संजीवनी वाहन वितरित किए थे। इन वाहनों को सीधे दिल्ली की निर्माण कंपनी से खरीदा गया था।
प्रदेश में आने के बावजूद इन वाहनों पर एंट्री टैक्स अदा नहीं किया गया है। विदिशा सीएमएचओ डॉ. दीपेश वर्मा के मुताबिक इन वाहनों पर चैचिस निर्माण स्तर पर 10 फीसदी एंट्री टैक्स अदा नहीं किया गया है।
स्वास्थ्य आयुक्त को इन वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर को लेकर पत्र व्यवहार किए गए थे, लेकिन टैक्स-पे की कार्रवाई के अभाव में अभी तक नंबर नहीं आए हैं।
इसी तरह रायसेन जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी बीके चौबे के मुताबिक कई बार वरिष्ठ अधिकारियों को बिना नंबर के संजीवनी वाहन संचालन को लेकर होने वाली असुविधा के विषय में अवगत कराया जा चुका है, परंतु कार्रवाई नहीं की गई।
बिना नंबर पर की कार्रवाई :
समाचार-पत्रों के माध्यम से संजीवनी वाहन बिना नंबर के चलने की जानकारी मिलती रही है। मंगलवार को यह वाहन बिना नंबर के चलता हुआ पाए जाने पर पंचनामा बनाकर सांची थाने में खड़ा करवा दिया है।
-राजनारायण सिंह, जिला परिवहन अधिकारी रायसेन

Leave A Reply

Your email address will not be published.