जयपुर पुलिस ने पांच कुख्यात अपराधियों की गिरफ्तारी पर ईनाम घोषित किया

राजस्थान में दिन-प्रति-दिन अपराध बढ़ रहे हैं और इसे रोकने में पुलिस नाकाम रही है.
यही नहीं एक तरफ पुलिस भी कटघरे में आ गई है. इसी के चलते महिला पुलिसकर्मी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. दूसरी तरफ जयपुर में आपराधियों के निशाने से पुलिस भी आ गई है.
महानिरीक्षक पुलिस जयपुर रैंज ने अलवर जिले के तिजारा पुलिस थाना क्षेत्र के पांच कुख्यात अपराधियों की गिरफ्तारी पर चार-चार हजार रूपये के पुरस्कार की घोषणा की है.
जयपुर रेंज के महानिरीक्षक पुलिस सौरभ श्रीवास्तव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि अलवर व जयपुर ग्रामीण के विभिन्न पुलिस थानों में भारतीय दंड संहिता आर्म्स एक्ट व अन्य धाराओं के संगीन अपराधों में वांछित अरसद पुत्र मंगल मेव, अख्तर पुत्र मंगल मेव, बल्ला पुत्र नूरमोहम्मद मेव, इस्लाम पुत्र घुघन और साहुन पुत्र सुमरदीन मेव तिजारा थाना इलाके के अपराधी वांछित है.
पुलिस की मदद करने वालों या उसकी गिरफ्तारी के लिए सही सूचना देने वाले व्यक्ति को महानिरीक्षक पुलिस जयपुर रेंज की ओर से चार-चार हजार रूपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया जाएगा.
महिला पुलिसकर्मी समेत चार के खिलाफ मामला दर्ज
जयपुर के जवाहर नगर थाना पुलिस ने महिला पुलिस कान्स्टेबल, उसके पति समेत चार लोगों के खिलाफ किशोरी से जबरदस्ती देह शोषण करवाने के मामले की जांच कर रही है.
पुलिस सूत्रों के अनुसार प्रेम प्रकाश शर्मा ने महिला पुलिस कान्स्टेबल ज्योति चौहान,उसके पति निरंजन चौहान, रेशमा और रिचा के खिलाफ अपनी नाबालिग पुत्री को घर से जबरदस्ती उठाकर ले जाकर उसकी अश्लील क्लिपिंग बनाकर देह शोषण के लिए विवश करने का मामला दर्ज करवाया है.
फिलहाल इस मामले में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.
पूर्व आईपीएस अधिकारी की पत्नी की चैन तोड़कर फरार
जयपुर के मालवीय नगर थाना इलाके में कल मोटर साइकिल पर सवार तीन अज्ञात लूटेरों ने भारतीय पुलिस सेवा के एक पूर्व अधिकारी की पत्नी के गले से सोने की चैन तोड़ कर फरार हो गए.
पुलिस सूत्रों के अनुसार यह वाक्या उस समय हुआ जब पूर्व पुलिस अधिकारी ओ पी टंडन और अपनी पत्नी शशि प्रभा के साथ जा रहे थे. उन्होंने बताया कि चैन के साथ हीरे का मूल्यवान पैंडल भी था. पुलिस  अज्ञात लूटेरों के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की धारा 392 के तहत मामला दर्ज कर जांच कर रही है.

Comments are closed.