कर्नाटक : चित्रदुर्ग में पीएम मोदी ने कहा- कांग्रेस दिलवाली नहीं डीलवाली

0

नई दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धुआंधार प्रचार जारी है। कर्नाटक के चित्रदुर्ग में चुनावी रैली के दौरान एक बार फिर प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, ‘हमेशा चुनाव जीतने के लिए गरीब-गरीब का जाप करने वाली कांग्रेस की गरीब के बेटे के प्रधानमंत्री बनने के बाद पोल खुल गई है।’

पीएम के चित्रदुर्ग रैली की मुख्य बातें –

– चित्रदुर्ग की धरती में जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान का मंत्र जीता-जागता महसूस होता है। यहां के किसानों ने नया इतिहास बनाया है, यहां से देश के लिए मर-मिटने वाले जवान भी आए हैं। यह धरती वैज्ञानिकों की भी है।

– जल्द ही चित्रदुर्ग भारत के आधुनिक विज्ञान का केंद्र बनने जा रहा है, यहां की धरती ‘जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान’ के मंत्र की पर्याय है।

– इसी धरती पर इसरो द्वारा चंद्रयान 2 मिशन की तयारी की जा रही है। मैं इस काम में लगे सभी लोगों को बधाई देता हूं।

– कर्नाटक के निर्माता और कांग्रेस के अध्यक्ष रहे लिजलिंगप्पा के साथ कांग्रेस ने क्या किया, इतने बड़े नेता को कांग्रेस के परिवार और बड़े नेताओं ने उन्हें अपमानित करने का एक भी मौका नहीं छोड़ा। उनका अपराध क्या था, उन्होने नेहरू की गलत आर्थिक नीतियों पर सवाल उठाए थे, इसलिए उनकी दुर्दशा कर दी गई।

– चुनावों की राजनीति के लिए समाज को तोड़ने की कोशिश की जा रही है। कांग्रेस में एक परिवार के लिए लोगों को अपमानित करने का इतिहास रहा है।

– पीएम ने आगे कहा कि हमारी पार्टी ने पहला मौका मिलते ही बिना जाति, धर्म को देखते हुए महान वैज्ञानिक अब्दुल कलाम को राष्ट्रपति बनाया था और जब दूसरी बाद हमें वोट मिला तो हमने गरीब दलित परिवार में पैदा हुए रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनाया।

– हजारों योजनाएं, हजारों मकानों, कई जमीनों एक ही परिवार का कब्जा है। बाबा साहब का स्मारक बनाने के लिए कभी कांग्रेस आगे नहीं आई। हमने बाबा साहब के पंचतीर्थ पर काम किया है।

– भाजपा की सरकार बनने के बाद दलितों और आदिवासियों का अपमान करने वाले कानून को और कड़ा बनाया गया।

– भाजपा ने अपने घोषणापत्र में एसटी समुदाय के लिए मडकरी नायाकरी हाउसेस स्कीम की योजना का वादा किया है। एससी समुदाय के लिए मादारा चेन्नइया योजना बनाने का वादा किया गया है। कांग्रेस यहां के वीरों को भूल गई, हम यहां के वीरों को कभी नहीं भूले।

– दिव्यांगों के लिए ट्राइसिकल, लाठी, हियरिंग एड की सुविधा देने की शुरुआत 1992 से हुई। तब से 2014 तक केवल 57 कैंप लगे थे। 2014 के बाद चार सालों में मोदी की सरकार बनने के बाद 5000 कैंप लगाए गये। दिव्यांगों के प्रति हमारी सरकार इतनी संवेदनशील है।

– यहां के मुख्यमंत्री अपने सूटकेस में कैरेक्टर सर्टिफिकेट रेडी रखते हैं. उनके किसी मंत्री पर आरोप लगें तो अपने सूटकेस से उसे सर्टिफिकेट निकालकर दे देते हैं।

– कांग्रेस के नेताओं के नाम के आगे-पीछे कई नाम लग जाते हैं, लेकिन मैंने चित्रदुर्ग में पहली बार सुना कि एक मंत्री के नाम के आगे डील लगा है, यानी जब तक डील नहीं होती ये दिल से काम नहीं करते, कांग्रेस दिलवाली नहीं डीलवाली है।

– भ्रष्टाचारियों को क्लीन चिट देने वाले मुख्यमंत्री को क्लीन स्वीप कर दो।

– जो कांग्रेस पार्टी आपका वेलफेयर नहीं सोचती, उनके फेयरवेल का समय आ गया है।

बाबा साहेब को कांग्रेस ने अपमानित किया –

कांग्रेस परिवार को निशाने पर लेते हुए पीएम ने कहा, ‘भारत के किसी भी हिस्से में जाएं, जहां भी आप जाते हैं। हर चीज का नाम एक परिवार के नाम पर रखा मिलेगा। डॉ. आंबेडकर के लिए यह एक परिवार क्या करता था? उनके पास बाबा साहेब के लिए समय ही नहीं था।’ उन्होंने आगे कहा कि बाबा साहब को भी कांग्रेस ने अपमानित किया। कांग्रेस ने कभी भी उन्हें स्वीकार नहीं किया। कांग्रेस के समय में एक ही परिवार के लिए भारत रत्न आरक्षित था। उनके महापरिनिर्वाण के बाद भी उन्हें यह सम्मान नहीं मिला। जब दिल्ली में अटल जी की सरकार बनी, तब जाकर बाबा साहब को भारत रत्न दिया गया।

कर्नाटक में पीएम मोदी की 4 रैली –

बता दें कि चित्रदुर्ग के अलावा पीएम की आज रायचूर, जमखंडी और हुबली में भी रैली हैं। इससे पहले शनिवार को भी पीएम ने चार रैलियां की थी। बता दें कि मई की शुरुआत से ही राज्य में पीएम की एक के बाद एक रैलियां हो रही हैं। पीएम की रैली में बढ़ती भीड़ के चलते उनकी रैलियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। भाजपा ऐसा अनुमान लगा रही है कि पीएम की रैली में मौजूद जनसैलाब वोट में बदलेगा।

जाहिर है कि कर्नाटक में जैसे-जैसे मतदान की तारीख करीब आ रही, वैसे-वैसे राजनीतिक दलों का चुनाव प्रचार और आक्रामक होता जा रहा है। भाजपा और कांग्रेस चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं। यहीं वजह है कि मतदान की तारीख से महज चंद दिनों पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव प्रचार की कमान संभाले हुए हैं।

कांग्रेस पर पीएम मोदी का वार –

शनिवार को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चार रैलियां की, जिसमें राज्य में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की सीट शिवमोगा भी शामिल थी। शिवमोगा के शिकारपुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली में उनके साथ सूबे के पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा भी शामिल रहे। येदियुरप्पा शिवमोगा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। शनिवार को मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने कर्नाटक को लूटने के अलावा और कुछ नहीं किया है। 15 मई को नतीजों आने के बाद कांग्रेस पीपीपी में बदल जाएगी, जिसका मतलब है ‘पंजाब, पुडुचेरी और परिवार’। इससे पहले मोदी ने तुमकुर में रैली के दौरान राहुल गांधी और देवगौड़ा दोनों पर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि 2014 में मेरे जीतने पर देवगौड़ा ने आत्महत्या का एलान किया था। उन्होंने कांग्रेस और जेडीएस के बीच गुपचुप तरीके से गठबंधन का आरोप लगाया। गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के लिए 12 मई को मतदान होगा और 15 को नतीजे आएंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.