मुंगावली और कोलारस दोनों जगह कांग्रेस आगे

0

भोपाल। मध्यप्रदेश की मुंगावली और कोलारस विधानसभा सीटों पर जारी मतगणना में दोनों ही स्थानों पर कांग्रेस आगे हो गई है। सुबह 8 बजे से शुरू हुई मतगणना में मुंगावली से बृजेंद्र सिंह यादव और कोलारस से महेंद्र सिंह यादव आगे चल रहे हैं। दोनों ही जगह सुरक्षा के मद्देनजर केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल को तैनात किया गया है।

मुंगावली में मतगणना का दौर आगे बढ़ने के साथ तीसरे राउंड के बाद कांग्रेस ने 2197 वोटों की बढ़त बना ली। पूर्व में कांग्रेस उम्मीदवार बृजेंद्र सिंह यादव यहां पीछे चल रहे थे लेकिन बाद के राउंड में उन्होंने अपनी बढ़त और मजबूत कर ली। बृजेंद्र सिंह को पांचवें राउंड तक 18452 वोट मिले हैं वहीं भाजपा की बाई साहब यादव को पांचवे चरण की मतगणना तक 16784 वोट मिले। डाक पत्रों की गिनती में 23 में से 21 मतपत्र अमान्य किए गए हैं। यहां मुख्य मुकाबला कांग्रेस के बृजेंद्र सिंह यादव और भाजपा की प्रत्याशी बाईसाहब यादव के बीच है। यहां 13 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें से 8 निर्दलीय हैं।

पढ़ि‍ए मुंगावली उपचुनाव मतगणना की पूरी खबर…

कोलारस में पहले चरण में कांग्रेस के महेंद्र सिंह यादव 2474 वोटों से आगे चल रहे हैं। तीसरे चरण में कांग्रेस के महेंद्र सिंह यादव को 3556 वोट मिले हैं जबकि भाजपा के देवेंद्र कुमार जैन को 3304 वोट मिले हैं। महेंद्र सिंह यादव को पांचवें चरण तक कुल 19430 वोट मिले, जबकि भाजपा के देवेंद्र कुमार जैन को 17037 वोट मिले। इस पहले कुल 14 डाक मतमत्रों में से कांग्रेस को 8 और भाजपा को 5 मिले, जबकि एक डाक मतपत्र निरस्त कर दिया है।

पढ़‍िए कोलारस उपचुनाव मतगणना की पूरी खबर…

मतगणना टेबल पर माइक्रो आब्जर्वर, गणना पर्यवेक्षक, गणना सहायक और दो अन्य कर्मचारी तैनात हैं। पूरी मतगणना की वीडियोग्राफी भी की जा रही है। मतगणना स्थल पर सिर्फ चुनाव आयोग के पर्यवेक्षक को मोबाइल ले जाने की इजाजत है। सुरक्षा की त्रिस्तरीय व्यवस्था बनाई गई है। रेंडम आधार पर दोनों विधानसभा क्षेत्र में उपयोग लाई गई वीवीपैट में से एक-एक चुनाव स्लिप और ईवीएम में डाले गए मतों का मिलान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रचार की कमान संभालने की वजह से चुनाव दिलचस्प हो गया। उपचुनाव के नतीजे प्रदेश की सियासत की दिशा भी तय करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.