बता दें कि इस बिल को संसद के शीतकालीन सत्र में पास करवाने की कोशिश थी लेकिन विपक्ष के विरोध के बाद इसमें संशोधन किए गए हैं। हालांकि, फिलहाल इन संशोधनों की आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है लेकिन कहा जा रहा है कि सरकार ने बिल को लेकर नरमी बरती है।