हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी से मिले पुतिन, 10 अरब डॉलर के सौदे को मिल सकती है मंजूरी

नई दिल्ली। दो दिवसीय भारत दौरे पर आए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और पीएम मोदी के बीच शुक्रवार को हैदराबाद हाउस में मुलाकात हुई। माना जा रहा है पुतिन के इस दौरे पर एस400 डील को मंजूरी मिल सकती है। पुतिन भारत और रूस के बीच 19वें शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार शाम भारत पहुंचे थे। एयरपोर्ट पर पीएम मोदी ने गले लगाकर पुतिन का स्वागत किया।

0

नई दिल्ली। दो दिवसीय भारत दौरे पर आए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और पीएम मोदी के बीच शुक्रवार को हैदराबाद हाउस में मुलाकात हुई। माना जा रहा है पुतिन के इस दौरे पर एस400 डील को मंजूरी मिल सकती है। पुतिन भारत और रूस के बीच 19वें शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार शाम भारत पहुंचे थे। एयरपोर्ट पर पीएम मोदी ने गले लगाकर पुतिन का स्वागत किया।

दोनों के बीच हैदराबाद हाउस में बातचीत जारी है और माना जा रहा है कि आज दोनों देशों के बीच 10 अरब डॉलर से ज्यादा के सौदे पर बातचीत होने की संभावना है।

गौरतलब है कि राष्ट्रपति पुतिन अपनी भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी के साथ वार्षिक भारत-रूस शिखर सम्मेलन में हिस्सा ले रहे हैं। इस यात्रा में अरसे से लंबित एस-400 ट्रंप एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम सौदे पर समझौता होना संभव बताया जा रहा है। इसका करार पांच अरब डॉलर की राशि से ज्यादा का होगा। ऐसा माना जा रहा है कि इस खरीद से अमेरिका के काउंटरिंग अमेरिका एडवर्सरीज थ्रू सेक्शन एक्ट का उल्लंघन होगा, लेकिन भारत पहले से ही अमेरिका को मनाने में लगा है।

बता दें कि इस शिखर सम्मेलन में 10 अरब डॉलर से ज्यादा के सौदे पर बातचीत हो सकती है। इनमें छिपी संभावना और क्षमता की बदौलत रूसी हथियारों के लिए कम से कम दो और दशकों तक भारतीय दरवाजे खुले रहेंगे। रक्षा सूत्रों के अनुसार एस-400 मिसाइल के अलावा 2 अरब डॉलर में एक और अकुला क्लास की परमाणु शक्ति संपन्न हमलावर पनडुब्बी की लीज, कृवाक के चार युद्धपोत के लिए 2 अरब डॉलर का सौदा, 200 से ज्यादा केए-226 लाइट यूटिलिटी हेलिकॉप्टर, जो हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड के साथ संयुक्त उद्यम में रशियन हेलिकॉपटर्स द्वारा बनाए जाने हैं।

इसके अलावा, भारतीय सेना के लिए 6,00,000 से ज्यादा एके-103 असॉल्ट राइफलों के निर्माण के लाइसेंस के लिए सरकार से सरकार के बीच एक सौदे पर भी बातचीत होगी। इसके बाद नंबर आता है दो आइएल-78 विमानों के ऑर्डर का। साथ ही भारत अपने नष्ट होते विमान बेड़े की भरपाई के लिए रूस को कुछ और एसयू-30 विमानों का भी ऑर्डर दे सकता है।

मोदी के आवास पर पुतिन से मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आधिकारिक आवास पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ वन-ऑन-वन रात्रिभोज किया। इन दोनों नेताओं ने लजीज भोज के दौरान द्विपक्षीय सहयोग और सामरिक मुद्दों पर चर्चा भी की।

इससे पूर्व, मोदी ने दिल्ली के 7, लोक कल्याण मार्ग आवास पर पहुंचे पुतिन का गर्मजोशी से स्वागत किया। पुतिन इससे पहले नई दिल्ली स्थित पालम एयरपोर्ट पर गुरुवार की शाम पहुंचे, जहां विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उनका स्वागत किया।आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मोदी ने रूसी और अंग्रेजी भाषा में ट्वीट करके कहा-“राष्ट्रपति पुतिन भारत में आपका स्वागत है। आपसी विचार-विमर्श से उम्मीदें हैं। ये आगे चलकर भारत-रूस मित्रता को बढ़ाएंगी।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.