मायावती के चक्‍कर में 'माया' पर बैन

0

लखनऊ. सूबे में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव आयोग की सख्ती का आलम यह है कि अब प्रशासन नाटकों के मंचन तक को रोक रहा है। लखनऊ जिला प्रशासन ने शहर में एक नाटक के मंचन को इसलिए रोक दिया गया क्योंकि अधिकारियों का कहना था कि नाटक के मुख्य पात्र का चरित्र प्रदेश की मुख्यमंत्री से मिलताजुलता है। नाटक की मुख्य पात्र का नाम माया है और उसे अपने सोने के सैंडल से बहुत लगाव है। उसके पास एक पालतू हाथी भी है।
लखनऊ के जिलाधिकारी अनिल सागर ने इस बाबत कहा, ‘नाटक के मंचन से चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन होता है, इस वजह से इसे रुकवा दिया गया।’ लेकिन नाटक के निर्देशक मुकेश वर्मा ने कहा कि उनके नाटक की मुख्य पात्र का मायावती से कोई लेना देना नहीं है। मुकेश के मुताबिक नाटक में किरदार निभा रहा जंबो नाम का हाथी लोगों को खा जाता है और उसके बदले वह सोने की ईंट उगल देता है।
गौरतलब है कि मायावती की पार्टी बहुजन समाज पार्टी का चुनाव चिह्न हाथी है। कुछ महीने पहले विकीलीक्स ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से दावा किया था कि मायावती ने एक बार अपने पसंदीदा ब्रैंड के सैंडल लाने के लिए विशेष विमान मुंबई भेजा था था। हालांकि, बीएसपी ने तब इन दावों का मखौल उड़ाया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.