विधानसभा में हंगामा, विपक्षी दल कांग्रेस के विधायक एक दिन के लिए सस्पेंड

gujratगांधीनगर।गुजरात विधानसभा में आज जबरदस्त शोर-शराबे तथा स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल और कांग्रेस की एक महिला विधायक के बीच तीखी नोंकझोंक के बीच विपक्षी कांग्रेस के सदस्यों को दिन भर के लिए सदन से निलंबित कर दिया गया। कांग्रेस की महिला विधायक की की स्वास्थ्य मंत्री पर की टिप्पणी से मचा बवाल….
दहेगाम से कांग्रेस की महिला विधायक कामिनीबा राठौड और पटेल के बीच उस समय तीखी नोकझोंक हो गई, जब राज्यपाल के अभिभाषण धन्यवाद प्रस्ताव संबंधी चर्चा के दौरान श्रीमती राठौड ने मंत्री पटेल पर एक व्यक्तिगत आक्षेप किया। इस पर पटेल ने भी उनके बारे में कुछ व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी। इससे नाराज कांग्रेस विधायक सदन के बीचों-बीच अध्यक्ष की कुर्सी के सामने आकर नारेबाजी करने लगे। वे भाजपा और उक्त मंत्री पर महिलाओं का अपमान करने का आरोप लगा रहे थे और मंत्री से माफी की मांग पर अड़े थे।
सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गई और कांग्रेस सदस्यों को दिन भर के लिए सदन से निलंबित कर दिया गया। इससे पहले भी कांग्रेस विधायक राघवजी पटेल ने सुबह पाटीदार आरक्षण आंदोलन की चर्चा करते हुए आरोप लगाया कि राज्य में आपातकाल जैसी स्थिति बन गयी है क्योंकि सरकार पाटीदार समुदाय को रैली प्रदर्शन आदि के लिए अनुमति नहीं देती और हर बार उन्हें इसके लिए हाईकोर्ट में गुहार लगानी पडती है। इस पर मंत्री पटेल ने आपत्ति व्यक्त करते हुए कांग्रेस पर जातिवादी राजनीति करने का आरोप लगाया। इस दौरान कांग्रेस के सचेतक बलवंतसिंह को भी राघवजी पटेल के पक्ष में बोलते देखा गया।
बाद में सदन में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के नेता (नेता प्रतिपक्ष) शंकर सिंह वाघेला ने आरोप लगाया कि राज्य में पहली महिला मुख्यमंत्री देने की बात को जोर शोर से प्रचारित करने वाली भाजपा महिलाओं का अपमान कर रही है।

Comments are closed.