देश में 5000 जगहों पर आयोजन

आयुष मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पूरे देश में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए करीब 5000 आयोजन होंगे। इसके अलावा 150 से अधिक देशों में योग दिवस मनाया जाएगा।

योग सेहत की गारंटी का पासपोर्ट

तीन साल पूर्व शुरू हुए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया और संदेश दिया कि योग सेहत की गारंटी का पासपोर्ट है। यह सिर्फ शरीर को फिट रखने के लिए कसरत मात्र नहीं है। योग दरअसल मैं से हम की यात्रा है। यह संतुलन और शांति देता है। ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है और असीम ताकत देता है। मैं पूरी दुनिया के लोगों से अपील करता हूं कि वे योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं।

2014 से हुई शुरुआत

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने दिसंबर 2014 में घोषित किया था कि हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। इस दिन का महत्व इसलिए भी है कि 21 जून साल का सबसे लंबा दिन होता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में पूरी दुनिया में योग दिवस मनाने का आह्वान किया था।

कोटा में बनेगा विश्व रिकॉर्ड कोटा

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर गुरुवार को राजस्थान के कोटा में दो लाख लोग योग कर रहे हैं। योगगुरु बाबा रामदेव इन लोगों को योग करा रहे हैं। बाबा रामदेव के साथ राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया व अाचार्य बालकृष्ण मौजूद हैं। सरकार का दावा है कि यह विश्व रिकॉर्ड होगा और इसे गिनीज बुक में दर्ज किया जाएगा। इसके लिए गिनीज वालों की टीम कोटा पहुंच गई है। गिनीज व‌र्ल्ड रिकॉ‌र्ड्स में योग करने वालों की सही संख्या दर्ज हो सके, इसके लिए यहां आने वाले सभी लोगों को बारकोड दिए गए हैं। बारकोड की स्कैनिंग के बाद ही आयोजन स्थल पर प्रवेश दिया गया।

दिल्ली में यहां हो रहा है आयोजन

-नई दिल्ली में आठ जगहों पर आयोजन हो रहे हैं। मुख्य कार्यक्रम राजपथ पर हो रहा है।

-ब्रह्मकुमारी संस्था लाल किले पर आयोजन कर रही है। इसमें बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआइएसएफ समेत विभिन्न केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल एजेंसियों की महिला कर्मियों समेत 50,000 लोग शामिल हैं।

-द्वारका में पतंजलि योग समिति और रोहिणी में आर्ट ऑफ लिविंग का आयोजन किया जा रहा है।