नदी किनारे मिले साइकिल और कपड़े, तब पता चला कि बुझ गए 4 घरों के इकलौते चिराग

0

बालाघाट। बालाघाट में चार बच्चों के वैनगंगा नदी के अमाघाट में डूबने से मौत हो गई है। दरअसल ये बच्चे 18 अक्टूबर की दोपहर में घर से घूमने निकले थे। जब देर रात तक बच्चे अपने घर नहीं लौटे तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। लेकिन पूरा एक दिन निकल जाने के बाद भी इन बच्चों का पता नहीं चला। आज सुबह वैनगंगा नदी के किनारे जब इन बच्चों की साइकिल और कपड़े मिले तो नदी में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया और सभी चारों बच्चों की लाशों को नदी से निकाला गया।

मरने वाले बच्चों की पहचान अनुज पिता राजकुमार ढहाते 12 साल बूढ़ी, सतीश हरिनखेड़े पिता एनकट हरिनखेड़े 14, यश पिता दीपेंद्र पारधी 11 साल और इंद्रजीत पिता रमेश राहंगडाले। सभी के शवों का पंचनामा तैयार कर पुलिस ने पीएम के लिए भेजा।

नदी में डूबने से मरे सभी बच्चे अपने परिवार के इकलौते लड़के थे। ऐसे में अपने कलेजे के टुकड़ों को खोने के बाद परिवारवालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.